No menu items!
Sunday, August 14, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUnnao सड़कों पर लटक रहे बिजली के तार, बारिश में बढ़ेगा खतरा

Unnao सड़कों पर लटक रहे बिजली के तार, बारिश में बढ़ेगा खतरा

Unnao सड़कों पर लटक रहे खतरों के तार, बारिश में बढ़ेगा खतरा।।

शहर के मुख्य मार्गों पर लटक रहीं बिजली की जर्जर लाइनें खतरा बनी हैं। इनकी गार्डिंग (लोहे के तार की जाली) न होने से तार अक्सर टूटकर सड़क पर गिर जाते हैं। जर्जर लाइनों को जोड़-गांठ कर और बांस की खपच्चियों से बांधकर काम चलाया जा रहा है।

शहर का वीआईपी क्षेत्र सिविल लाइंस हो या भीड़भाड़ वाली कचहरी रोड, या फिर पूरे दिन व्यस्त रहने वाला सदर बाजार और मुख्य मार्ग। सभी जगह हाईटेंशन लाइनें खतरा बनीं हैं। अक्सर तार टूटकर गिरने की घटनाएं होती हैं और भगदड़ मचती है।

विभाग हर घटना के बाद जल्द सुधार का आश्वासन देकर भूल जाता है। बारिश के दिनों में खतरा और बढ़ेगा। जर्जर तारों में बारिश का पानी जाने से तार गर्म होकर टूटने की घटनाएं ज्यादा होती हैं। सड़कें गीली होने से करंट फैलने का भी खतरा और बढ़ेगा, लेकिन इससे निपटने की विभाग की अभी से कोई तैयारी नहीं है।

कचहरी रोड पर बिजली की लाइनें काफी समय से जर्जर हैं। अक्सर तार टूटकर सड़क पर गिरने की घटनाएं होतीं हैं और भगदड़ मचती है। लोगों ने कई बार सुधार की मांग की, लेकिन आश्वासन के सिवा कुछ नहीं हुआ। बुधवार को न्यायालय के सामने बिजली का तार टूटकर गिर गया। दुकानदारों और वाहन चालकों में भगदड़ मच गई। गनीमत रही कि तार का वह सिरा टूटा, जो ट्रांसफार्मर में जुड़ा था। अगर तार में करंट होता हो बड़ा हादसा हो सकता था।

सदर बाजार में तारों का घना जाल लटक रहा है। एचटी हो या एलटी लाइन किसी के भी नीचे गार्डिंग नहीं है। अक्सर तारों में स्पार्किंग होती है और तार टूटकर भीड़भाड़ वाले मुख्य मार्ग पर गिरते हैं। पिछले दिनों धवन रोड बाजार के पास तार टूटकर खरीदारी कर रही महिला के पास टूटकर गिर गया था। लोगों ने महिला को खींचकर तार की चपेट में आने से बचा लिया था। अब तो लोग खड़े होने से पहले ये देखते हैं कि बिजली की लाइन के नीचे तो नहीं खड़े हैं।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES