Friday, August 12, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUnnao जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुआ शासन की शीर्ष प्राथमिकता के 37...

Unnao जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुआ शासन की शीर्ष प्राथमिकता के 37 बिन्दुओं की समीक्षा बैठक का आयोजन

 

Unnao डीएम रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट स्थित पन्नालाल सभागार में शासन की शीर्ष प्राथमिकता के 37 बिन्दुओं की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में समस्त विभागों से जुड़ी योजनाओं की प्रगति के बारे में समीक्षा करते हुए स्वास्थ्य विभाग से जुड़ी आयुष्मान भारत, परिवार नियोजन, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य, मातृत्व स्वास्थ्य, एन0एच0एम0 जैसी अनेक योजनाओं पर अब तक हुये कार्यों की प्रगति पर विस्तार से चर्चा की उन्होंने चिकित्सकों की उपलब्धता, अल्ट्रासाउन्ड मशीन, ऐक्स-रे मशीन, टेलीमेडिसीन, समस्त आर0बी0एस0ए0 टीम के कार्यों पर विस्तार से चर्चा की तथा जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सत्यप्रकाश को दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने व जनपद में हो रहे कोविड टीकाकरण के बारे में जानकारी ली। उन्होंने आशा, ए0एन0एम0, के माध्यम से शत प्रतिशत टारगेट पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की साफ-सफाई सहित समस्त सुविधाएं सुनिश्चित कराने हेतु निर्देश दिए।

बैठक में ऑपरेशन कायाकल्प, राशन कार्ड, आयुष्मान भारत योजना में सुधार, पेयजल की व्यवस्था, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन, खाद्य रसद, राज्य औद्योगिक मिशन, शादी अनुदान, पेंशन, कन्या सुमंगला योजना, आंगनबाड़ियों का कार्य, राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान, सामुदायिक शौचालय, पंचायतभवन, स्वच्छ भारत मिशन, उद्योगबन्धु, पोषाहार का वितरण, कौशल विकास मिशन आदि बिंदुओं पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्थानीय स्तर पर विद्युत कनेक्शन एवं अन्य कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर कार्यवाही सुनिश्चित करंे।

बैठक में मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को निर्देश दिये गये कि जितने भी गौआश्रय स्थल हंै उनमें मवेशियों को भूसा चारा पानी आदि की किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा पशुओं के लिए पानी, शेड आदि व्यवस्थित रहे। उन्होंने कहा एक भी पशु आवारा नहीं घूमना चाहिए सभी को गौ संरक्षण केंद्रों में संरक्षित किया जाए। आपरेशन कायाकल्प योजना के तहत ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में आच्छादित योजनाओं को तत्काल पूरा करने, स्वच्छ भारत मिशन, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण योजना, प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना, मुख्य मंत्री आवास योजना तथा विभिन्न योजनाओं की प्रगति, आदि बिन्दुओं पर चर्चा की गयी। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत आधार सीडिंग एवं खाद्यान्न वितरण के बारे में जानकारी ली गयी। समाज कल्याण, अल्पसंख्यक, पिछड़ावर्ग, प्रोबेशन विभाग द्वारा चलायी जा रही छात्रवृति, पंेशन, कन्या सुमंगला योजना आदि के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश निर्गत किये।

जिलाधिकारी ने समस्त विभागाध्यक्षों को निर्देशित करते हुये कहा कि अपनी-अपनी विभागीय योजनाओं के सम्बन्ध में स्टाफ के साथ समीक्षा कर समयान्तर्गत कार्य कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने समस्त विभागाध्यक्ष को योजनाओं में प्रगति लाने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी महोदय ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, डी पी आर ओ सहित सम्बन्धित को निर्देशित करते हुये कहा कि सावन माह से पूर्व मुख्य मार्गों (जहां से कांवड़ यात्री जायेंगे) गड्ढे भर दिये जायें, कांवड़ यात्रियों हेतु स्वच्छ पेय जल, हेल्थ पोस्ट और साफ-सफाई, मुख्य मार्गों पर आवारा पशु नहीं मिलने चाहिये आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करा ली जाये।

बैठक में अधीशाषी अभियन्ता सिंचाई खण्ड, शारदा नहर के अनुपस्थित रहने पर अग्रिम आदेशों तक वेतन रोकने तथा प्रभारी, राजकीय निराला उद्यान, उन्नाव को शासकीय कार्यों में लापरवाही बरतने व प्रायः समीक्षा बैठकों में अनुपस्थित रहने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री दिव्यांशु पटेल, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी एवं समस्त संबंधित उपस्थित रहे।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES