No menu items!
Sunday, August 14, 2022
Homeउत्तर प्रदेशBareilly राममूर्ति मेडिकल कॉलेज फीमेल पांच दिवसीय हेल्थ कैंप शुरू

Bareilly राममूर्ति मेडिकल कॉलेज फीमेल पांच दिवसीय हेल्थ कैंप शुरू

बरेली के प्रतिष्ठित राममूर्ति मेडिकल कॉलेज की स्थापना के 20 बर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य मे कल से फीमेल के लिए 5 दिवसीय फ्री हेल्थ कैंप शुरू।

Bareilly  _ एसआरएमएस के डायरेक्टर व एडमिनिस्ट्रेटर आदित्य मूर्ति ने बताया कि 20 बर्ष पहले भोजीपुरा मे मेडिकल के क्षेत्र लगाया गया पौधा अब प्रबंधन की मेहनत,समर्पण व कर्तव्यनिष्ठा से महज़ 20 सालों मे एक विशालकाय बटवृक्ष बन चुका है।

बरेली व आसपास के क्षेत्र को हेल्दी व बीमारियों से दूर रखने के मकसद से स्थापित किया गया बरेली का प्रतिष्ठित राममूर्ति मेडिकल कॉलेज अपनी स्थापना के शानदार 20 बर्ष पूरा करने के उपलक्ष्य मे 5 जुलाई से 9 तक महिलाओं व बालिकाओं के लिए हेल्थ कैंप का आयोजन करने जा रहा है।स्वास्थ्य कैंप मे महिलाओं व लड़कियों की फीमेल डिसीज़ के साथ सामान्य बीमारियों के लिए फ्री रजिस्ट्रेशन व परामर्श की सुविधा रहेगी।स्वास्थ्य शिविर का मकसद महिलाओं को स्वस्थ रखना और उन्हें बीमारियों के प्रति जागरूक करना है।फ्री हेल्थ कैंप 5 दिन तक आयोजित किया जायेगा,जिसमें मेडिसिन, गायनोलोजी,ऐंडोक्राइनलोजी, आदि विभाग मरीजों के परामर्श और उपचार करेंगें।कैप मे महिलाओं व लड़कियों के लिए शुगर, ईसीजी,कैंसर स्क्रीनिंग व हीमोग्लोबिन की जांच मुफ्त मे की जायेगी और ओपीडी की जाचों पर 20 फीसदी की छूट रखी गई है।राममूर्ति मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर आदित्य मूर्ति ने बताया कि बरेली और आसपास के शहरों के मरीजों को गंभीर रोगों के लिए दिल्ली और लखनऊ जैसे बड़े शहरों मे इलाज न कराने जाना पड़े और उन्हें बरेली मे ही बेहतरीन इलाज मिल सके,हमने इसी सोच के साथ आज से 20 बर्ष पूर्व एसआरएमस की नींव रखी थी।आज महज़ 20 बर्षों के दरम्यान मेडिकल के क्षेत्र मे एसआरएमएस ने उम्मीद से अधिक सफलता अर्जित की है।इसलिए स्थापना के अविस्मरणीय 20 बर्षों को यादगार बनाने के उपलक्ष्य मे प्रबंधन ने 5 जुलाई से 9 जुलाई तक महिलाओं के लिए फ्री हेल्थ कैंप का आयोजन करने का निर्णय लिया है।आदित्य मूर्ति ने मेडिकल कॉलेज के कामयाब 20 सालों का श्रेय प्रबंधन की मेहनत,समर्पण व निष्ठा को दिया है।राममूर्ति मेडिकल कॉलेज पिछले 20 सालों से रूहेलखंड का सबसे बड़ा व उत्तम कॉलेज माना जाता है।

बरेली से संवाददाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES