Friday, August 12, 2022
Homeमध्य प्रदेशबीजेपी विधायक गुंडागर्दी और प्रशासनिक दवाब का ले रहे हैं सहारा

बीजेपी विधायक गुंडागर्दी और प्रशासनिक दवाब का ले रहे हैं सहारा

जिला ब्यूरो/मनोज सिंह

 

बीजेपी विधायक गुंडागर्दी और प्रशासनिक दवाब का ले रहे हैं सहारा
पूर्व मंत्री यादवेन्द्र सिंह सहित अन्य पर बना मामला वापिस लेने की उठी मांग।

टीकमगढ़। वार्ड नंबर 1 में विधायक राकेश गिरी एवं पूर्व मंत्री यादवेन्द्र सिंह के बीच हुये विवाद के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नाराजगी जाहिर होने लगी है। उन्होंने क्षेत्रीय विधायक पर मनमानी करने एवं बूथ कैप्चरिंग करने जैसे गंभीर आरोप लगाते हुये पक्षपातपूर्ण कार्रवाई की तीखे शब्दों में निंदा की है। इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारी सूर्य प्रकाश मिश्रा, गौरव शर्मा, रजनी जायसवाल, इसरार मुहम्मद, लक्ष्मण रैकवार, संजय नायक, राम कुमार यादव, प्रणव जायसवाल, अरविंद रजक अड्डू, सीता बाई कुशवाहा सहित अलग-अलग वार्डों के सभी उम्मीदवार शामिल हुये। उन्होंने बीजेपी के दवाब में पुलिस प्रशासन पर कार्रवाई करने का आरोप लगाते हुये मामले की निष्पक्ष जांच करने पर जोर दिया। श्रीमती जायसवाल ने कहा कि विधायक राकेश गिरी द्वारा चुनाव जीतने के लिये तरह-तरह के षड्यंत्र रचे जाते रहे। कर्मचारी मतदाताओं और उनके परिजनों को बीजेपी को वोट न देने पर प्रताडि़त करने की धमकियां दी गई। इतना ही नहीं बूथ कैप्चरिंग करने का वार्ड नंबर 1 एवं 6 में प्रयास किया गया। जहां उनके संबन्धीजन उम्मीदवार हैं। पुलिस प्रशासन द्वारा भी जहां बीजेपी उम्मीदवारों को खुली छूट दी गई, वहीं कांग्रेस व अन्य उम्मीदवारों पर सख्ती बरती गई। उन्होंने कहा कि इस तरह के चुनाव लोकतंत्र का मखौल उड़ा रहे हैं। उन्होंने मतगणना के दौरान भी गड़बड़ी की आशंका जाहिर की। नगरीय चुनाव के दौरान भाजपा विधायक और कांग्रेस के पूर्व मंत्री के बीच विवाद का मामला बढ़ता ही जा रहा है । घटना के बाद कोतवाली पुलिस ने पूर्व मंत्री यादवेंद्र सिंह बुंदेला सहित 30 लोगों के खिलाफ  मारपीट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था, लेकिन आज सुबह पूर्व मंत्री पर हत्या के प्रयास की धारा 307 और 326 का इजाफ ा कर दिया गया है । इस दौरान संजय नायक ने बीजेपी एवं विधायक राकेश गिरी पर तीखे प्रहार कर प्रशासन को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था तार तार होती नजर आई। यहां वहां उपद्रव एवं हगांमा बीजेपी समर्थकों द्वारा किये गये। पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष जब्बार खान, इसरार मुहम्मद, लक्ष्मण रैकवार सहित अनेक वार्ड नंबर एक की कांग्रेस उम्मीदवार सीता बाई कुशवाहा ने घटना की सच्चाई पर रोशनी डाली। श्रीमती कुशवाहा ने कहा कि बीजेपी समर्थकों ने बूथ कैप्चरिंग करने का प्रयास किया और उन्हें पुलिस कर्मचारियों की मौजूदगी में ही बाहर निकाल दिया गया। इस दौरान प्रशासन की चुप्पी और बीजेपी कार्यकर्ताओं की दबंगाई को देखते हुये इसकी शिकायत पूर्व मंत्री यादवेन्द्र सिंह से की गई। इसके बाद यहां विवाद की स्थिति निर्मित हुई। उन्होंने सारे मामले की शिकायत निर्वाचन आयोग से की है। उन्होंने प्रशासन एवं बीजेपी पर अनेक आरोप लगाये। इस अवसर पर अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES