Monday, August 8, 2022
Homeउत्तर प्रदेशसीज हुए हॉस्पिटल (hospital) में चल रहा था महिला का इलाज, हुई...

सीज हुए हॉस्पिटल (hospital) में चल रहा था महिला का इलाज, हुई मौत

सीज हुए हॉस्पिटल (hospital) में चल रहा था महिला का इलाज, हुई मौत

उन्नाव। पुरवा कागजों में बंद चल रहे अस्पताल के द्वारा इलाज में 35 वर्षीय महिला की गलत ऑपरेशन करने की वजह से जान चली गई। जिस पर परिजनों ने पुरवा उन्नाव मुख्य मार्ग जाम कर दिया 2 घंटे से अधिक जाम के बीच पुलिस और परिजनों के बीच नोकझोंक होती रही। जिसके चलते दोनों तरफ एक एक किलोमीटर लंबा जाम लग गया पुलिस उपाधीक्षक पंकज कुमार सिंह कोतवाली प्रभारी ज्ञानेंद्र सिंह की सूझ बूझ के चलते जाम खुला और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भिजवाया तथा परिजनों की शिकायत पर अस्पताल के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया। वही मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया उस अस्पताल का रजिस्ट्रेशन निरस्त किया जा चुका है l

क्षेत्र के ग्राम जोरावर गंज निवासी नरेश ने बताया उसकी पत्नी आरती उम्र 35 वर्ष के पेट में दर्द था। जिस पर उसने पुरवा कस्बे के मिर्री चौराहा स्थित श्री सिद्धिविनायक अस्पताल में उस को दिखाया जहां वहां के स्टाफ और डाक्टर ने बताया की आरती के पेट में बड़ी पथरी है। जिसका तुरंत ऑपरेशन बहुत जरूरी है जिस पर उसको शनिवार 25 जून को वहां भर्ती करा दिया तथा अस्पताल द्वारा उसे ₹50 हजार रुपए जमा करा लिया गए। जिसके बाद उसकी पत्नी आरती का डॉक्टर ने ऑपरेशन कर दिया ऑपरेशन के बाद उसकी हालत बिगड़ गई। जिस पर अस्पताल में 28 जून को शाम उसे कानपुर रिफर कर दिया जहां भर्ती के थोड़े समय बाद ही रामादेवी मेडिकल सेंटर कानपुर में उसकी मौत हो गई l घटना के बाद आज सुबह परिजन 10:30 बजे उसका शव ला कर पुरवा उन्नाव मुख्य मार्ग जाम कर हंगामा करने लगे जिसे देखते ही देखते एक एक किलोमीटर लंबा जाम लग गया। जिससे सूचना पर पुलिस उपाधीक्षक पंकज कुमार सिंह कोतवाली प्रभारी ज्ञानेंद्र सिंह व भारी पुलिस फोर्स ने मौके पर पहुंचकर समझा-बुझाकर जाम खुलवाने का प्रयास किया।इसी दौरान 2 घंटे तक जाम लगा रहा जिस पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर जाम खुलवाया वही प्रभारी चिकित्सा अधिकारी पुरवा ने बताया उक्त अस्पताल को मुख्य चिकित्सा अधिकारी उन्नाव द्वारा सीज कर दिया गया था। अस्पताल कैसे खुला है यह उनकी जानकारी मे नहीं है l आरती के पिता बिंदा प्रसाद पुत्र भीकम दास निवासी ग्राम जोरावर गंज में कोतवाली में अस्पताल के खिलाफ शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है l मुख्य चिकित्सा अधिकारी उन्नाव ने बताया उक्त अस्पताल को सीज कर उसका रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिया गया था।उक्त अस्पताल कैसा संचालित हो रहा है। उनकी जानकारी में नहीं है अस्पताल संचालक के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया जाएगा l

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES