No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशशीशगढ़ इंस्पेक्टर और बरेली प्रेमनगर इंस्पेक्टर पर गिरी गाज

शीशगढ़ इंस्पेक्टर और बरेली प्रेमनगर इंस्पेक्टर पर गिरी गाज

जनपद बरेली_ हत्या और बवाल के बाद हटे इंस्पेक्टर शीशगढ़ _ मोहब्बत में युवक की हत्या और बवाल के बाद आरोपियों को अवैध रूप से हिरासत में रखने के मामले में बरेली एसएसपी ने इंस्पेक्टर शीशगढ़ को हटा दिया, उन्हें फतेहगंज पश्चिमी थाने में इंस्पेक्टर क्राइम बनाया गया है, शीशगढ़ में जिया नगला गांव के रहने वाले सुनील कुमार कश्यप का शव कुतुबपुर के जंगल में फंदे से लटका मिला था, उनके पिता ने मुस्लिम लड़की से मोहब्बत को लेकर हत्या करने का आरोप लगाया था, इसके बाद 5 लोगों के खिलाफ थाना शीशगढ़ ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया, हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर लोगों ने दोपहर से लेकर रात और अगले दिन सुबह तक जाम लगा दिया था, सात आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ की, लेकिन 3 दिन बाद तक यह भी आरोपी को जेल नहीं भेजा, लखनऊ तक हंगामा होने के बाद बरेली एसएसपी सिद्धार्थ अनिरुद्ध पंकज ने इंस्पेक्टर शीशगढ़ अजय पाल सिंह को वहां से हटा दिया, रिजर्व पुलिस लाइन में राम अवतार सिंह को शीशगढ़ का नया इंस्पेक्टर बनाया है, इसके अलावा एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात इंस्पेक्टर श्रवण कुमार सिंह को इंस्पेक्टर बहेड़ी और क्राइम ब्रांच इन्वेस्टिगेशन विंग में तैनात राजेश सिंह को इंस्पेक्टर भूता बनाया गया है,

________________________________

 

लूट का पैसा कम बताने पर इंस्पेक्टर नपे

 

जनपद बरेली _ प्रेमनगर थाने में दो महा में 3 इंस्पेक्टर हटाए जा चुके हैं, व्यापारी के मुनीम से हुई लूट के मामले में पुलिस की किरकिरी होने और 1.43 लाख रुपये गायब होने के बाद एडीजी ने सख्त कार्रवाई करते हुए इंस्पेक्टर को सीधे सस्पेंड कर दिया, और जांच के आदेश दिए हैं, सोमवार को किला स्थित गणेशपुर के रहने वाले व्यापारी राकेश अग्रवाल इंटरप्राइजेज के मालिक राकेश अग्रवाल के मुनीम लीला सिंह यादव से दिनदहाड़े बदमाशों ने हार्डमैन के पास डेढ़ लाख रुपये का बैग लूट लिया था, व्यापारी के मुनीम के चीखने चिल्लाने के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए उन्होंने दो बदमाशों को एक प्लाट से पकड़ लिया, पुलिस मौके पर पहुंच गई, पुलिस ने उनके पास से हजार रुपये बरामद दिखाये, दोनों बदमाशों को जेल भेज दिया, जबकि मुनीम लीला सिंह यादव ने तीसरा बदमाश होने का दावा किया था, पूरे मामले की शिकायत एडीजी से की गई, आरोप लगाया कि पुलिस ने 1.43 लाख रुपये गायब कर दिए हैं, एडीजी राजकुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सख्त कार्रवाई की, उन्होंने इंस्पेक्टर प्रेमनगर अजय कुमार को सस्पेंड कर दिया है, उनके खिलाफ विभागीय जांच का आदेश दिया गया है, एडीजी जोन बरेली राजकुमार ने बताया कि दिनदहाड़े लूट की घटना में बरामदगी को लेकर पुलिस की छवि धूमिल हो रही थी, इंस्पेक्टर अजय कुमार को पीलीभीत से समृद्ध कर दिया गया है, सस्पेंशन के कार्यालय में पीलीभीत में रोज़ हाजिरी देंगे, भाई प्रेमनगर थाने में अब तक किसी की तैनाती नहीं की गई है,

 

जानकारी के अनुसार बलवीर के हटने के बाद धड़ाधड़ गिर रहे पुलिस के विकेट _ इंस्पेक्टर प्रेमनगर रहे बलवीर सिंह 3 साल थाने में तैनात रहे, इसके बाद लगातार पुलिस के विकेट गिर रहे हैं, प्रेमनगर थाने में इंस्पेक्टर शीतांशु शर्मा, इंस्पेक्टर जसवीर सिंह का कार्यकाल छह- छह महा का रहा, इसके बाद इंस्पेक्टर दयाशंकर और इंस्पेक्टर अरविंद पवार कुछ ही दिनों के मेहमान रहे, इंस्पेक्टर अजय भी 8 दिन में प्रेमनगर थाने ने सस्पेंड होकर पवेलियन लौट गए, प्रेमनगर थाने की कुर्सी कांटों का ताज बन गई है।

 

बरेली से संवादाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES