No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशलखनऊ विकास प्राधिकरण की जगह होगा नया नाम एलडीएमए, 7 जिले होंगे...

लखनऊ विकास प्राधिकरण की जगह होगा नया नाम एलडीएमए, 7 जिले होंगे शामिल

सीमा विस्तार में 1104 राजस्व गांव किए जायेगे शामिल , NCR की तर्ज पर विकसित किया जायेगा एलडीएमए को

लखनऊ विकास प्राधिकरण को जल्द ही नया नाम मिलेगा। इसे अब लखनऊ विकास प्राधिकरण की जगह एलडीएमए नाम से जाना जाएगा। एलएमडीए का सीमा विस्तार बाराबंकी से उन्नाव तक होना है। सीमा विस्तार में 1104 राजस्व गांव हिस्सा होंगे।बाराबंकी के 384 और उन्नाव के 394 नए गांव इसमें शामिल किए जाने की तैयारी हो रही है।इन गांवों में भी शहरी क्षेत्र के हिसाब से विकास कराया जाएगा। एलएमडीए (LMDA) में 2990 वर्ग किलोमीटर का कुल क्षेत्रफल शामिल होगा. सीमा विस्तार होने के बाद LMDA में 50.40 लाख की आबादी आएगी।

 

दिल्ली-NCR की तर्ज पर यूपी के स्टेट कैपिटल रीजन में दिखेंगे ये सात बड़े बदलाव, कानपुर-उन्नाव समेत ये 7 जिले शामिल

एलएमडीए लखनऊ के तहत राजधानी के राजस्व गांवों के अलावा बाराबंकी के तीन ब्लॉक शामिल किए जाएंगे। उन्नाव का भी नवाबगंज (Nawabganj) नगर पालिका पंचायत और कुछ राजस्व गांवों भी इसके दायरे में लाए जाएंगे। LMDA में आने से इन गांवों में भी विकास कार्य तेज हो जाएंगे। इसमें पीने के पानी की पाइपलाइन, पक्की सड़कें, पक्की नालियां और अन्य तरह की सार्वजनिक सुविधाएं शामिल हैं। गांवों में नगर निकायों के तहत आवंटित फंड भी बढ़ाया जाएगा।

राजस्व गांवों में लखनऊ के 8 ब्लॉक और लीडा यानी लखनऊ इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी के 719 और बाराबंकी के तीन ब्लॉक के 385 गांव को दायरे में लाया जाएगा। लखनऊ एवं उन्नाव के 45 राजस्व गांवों को भी नगर पालिका परिषद नवाबगंज की 3 लाख की आबादी भी इसमें शामिल कर ली जाएगी। राजधानी लखनऊ में बढ़ती आबादी, नगरीय सुविधाओं पर बढ़ते दबाव के कारण इसके विस्तार पर लंबे समय से चर्चा हो रही है।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES