No menu items!
Saturday, August 13, 2022
Homeदेशमंकीपॉक्स (MonkeyPox) से भारत में पहली मौत

मंकीपॉक्स (MonkeyPox) से भारत में पहली मौत

डेस्क: विदेश से लौटे युवक की 30 जुलाई को केरल में मौत हो गई थी और वह मंकीपॉक्स (MonkeyPox) से संक्रमित था। भारत में मंकीपॉक्स से यह पहली मौत है। गौरतलब है कि संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई से लौटे केरल के एक व्यक्ति की शनिवार को मौत हो गई। अब यह पुष्टि हो गई है कि वह मंकीपॉक्स से संक्रमित था। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा है कि संक्रमित मरीज युवा था, किसी अन्य बीमारी या स्वास्थ्य समस्या से पीड़ित नहीं था. गौरतलब है कि भारत में चार मरीजों में मंकीपॉक्स की पुष्टि हुई है और कई राज्यों में कुछ संदिग्ध मरीज मिले हैं, जिनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं.

उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य विभाग उनकी मौत के कारणों की जांच कर रहा है और यह पता लगाया जाएगा कि 21 जुलाई को यूएई से लौटने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराने में देरी क्यों हुई. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- युवक यहां से लौटा है. 21 जुलाई को संयुक्त अरब अमीरात। वह अपने परिवार के साथ थे। उन्हें 26 जुलाई को बुखार आया और 27 जुलाई को उन्हें भर्ती कराया गया। अगले दिन स्थिति बिगड़ने पर 28 जुलाई को उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। वह मंकीपॉक्स के परीक्षण में संक्रमित पाया गया था।

सोमवार को उनके सैंपल में मंकीपॉक्स के संक्रमण की पुष्टि हुई है। बताया जा रहा है कि यूएई में भी उनके मंकीपॉक्स वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। 19 जुलाई को यूएई में उसके नमूने लिए गए और वह 21 जुलाई को भारत लौटा। इसके बाद 27 जुलाई को उन्हें त्रिशूर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। युवक का नमूना जांच के लिए पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, एनआईवी भेजा गया था। एनआईए की रिपोर्ट सोमवार को आई, लेकिन उससे पहले 30 जुलाई को जिस दिन युवक की मौत हुई, यूएई की रिपोर्ट में उसके मंकीपॉक्स से संक्रमित होने की पुष्टि हुई.

sorce- NI

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES