No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeदेश"भारत जोड़ो" यात्रा की कांग्रेस ने की शुरुआत, पहले दिन करीब 20...

“भारत जोड़ो” यात्रा की कांग्रेस ने की शुरुआत, पहले दिन करीब 20 किलोमीटर की दूरी तय की

राहुल ने पहले दिन की 20 किलोमीटर की यात्रा, कांग्रेस बोली : हम नए अवतार में सामने आएंगे

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी के कई नेताओं के साथ बृहस्पतिवार को ‘भारत जोड़ो’ यात्रा की शुरुआत हुई पहले दिन करीब 20 किलोमीटर की दूरी तय की।इस मौके पर पार्टी ने कहा कि यात्रा के बाद वह नए अवतार में सामने आएगी तथा उसे मित्र एवं विरोधी दल हल्के में नहीं ले सकेंगे। राहुल गांधी 118 अन्य ‘भारत यात्रियों’ तथा कई नेताओं के साथ 3570 किलोमीट की यात्रा पर निकले तो रास्ते में बड़ी संख्या में लोग सड़क के किनारे खड़े थे और उन्होंने राष्ट्रीय ध्वज और ढोल-नगाड़ों के साथ राहुल का स्वागत किया। तेज कदमों से पदयात्रा कर रहे राहुल कई स्थानों पर लोगों से मिले और बातचीत की। यात्रा के पहले दिन राहुल और अन्य यात्रियों ने करीब 20 किलोमीटर की दूरी तय की। शाम के समय राहुल गांधी के साथ हजारों की संख्या में लोग पैदल चले। इस यात्रा की शुरुआत के पहले दिन कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ‘भारत जोड़ो’ यात्रा को पार्टी के लिए ‘‘जीवन रक्षक’’ करार देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि यह यात्रा पार्टी को एक नए अवतार में लाएगी तथा वह पहले से अधिक आक्रामक एवं सक्रिय होगी जिसे मित्र और राजनीतिक विरोधी हल्के में नहीं ले सकेंगे। रमेश ने ‘पीटीआई-भाषा’ के साथ बातचीत में यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इस यात्रा को लेकर जिस तरह से हमले कर रही है उससे स्पष्ट है कि सत्ताधारी दल परेशान है। उन्होंने ‘भारत जोड़ो’ यात्रा को कांग्रेस के लिए संजीवनी बताते हुए कहा कि यह पार्टी को मजबूती देगी और उसमें नयी जान फूंकेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि 94 वर्षीय कुमरी आनंदन ने राहुल गांधी के साथ ध्वजारोहण किया जिसके साथ यात्रा का आगाज हुआ। कुमरी आनंदन कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता हैं जो इस यात्रा सबसे अधिक उम्र के पदयात्री थे। पदयात्रा के दौरान राहुल गांधी जगह-जगह रुके और लोगों से बातचीत की। एक बच्चे के साथ तस्वीर साझा करते हुए उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘देश के भविष्य की बुनियाद यही हैं. आने वाले कल की शुरुआत यही हैं…एक तेरा कदम, एक मेरा कदम, मिल जाए तो जुड़ जाए अपना वतन। ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के पहले दिन राहुल गांधी यहां सुचिंद्रम इलाके के एसएमएसएम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में रुके और वहां अंडमान से लाई गई मिट्टी और पानी का इस्तेमाल करते हुए एक पौधा लगाया। इस 101 साल पुराने स्कूल में 1937 में महात्मा गांधी और सी राजगोपालचारी आए थे। यहां की अतिथि पुस्तिका में बापू ने हिंदी और तमिल में हस्ताक्षर किए थे। यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने महिला अधिकार कार्यकर्ताओं, दलित अधिकार कार्यकर्ताओं और कुछ अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के पहले दिन राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, महासचिव जयराम रमेश वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम, दिग्विजय सिंह और कई अन्य नेता शामिल रहे।

इस यात्रा में सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव और पीवी राजगोपाल भी शामिल हुए.कांग्रेस ने राहुल समेत 119 नेताओं को “भारत यात्री” नाम दिया है जो कन्याकुमारी से पदयात्रा करते हुए कश्मीर तक जाएंगे। ये लोग कुल 3,570 किलोमीटर को दूरी तय करेंगे। कांग्रेस ने बुधवार को कन्याकुमारी से अपनी ‘भारत जोड़ो’ यात्रा की औपचारिक शुरुआत की थी और इस मौके पर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक लिखित संदेश के माध्यम से कहा था कि यह यात्रा भारतीय राजनीति के लिए परिवर्तनकारी क्षण है तथा यह कांग्रेस के लिए संजीवनी का काम करेगी।”

इन:

 

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES