No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशबांगरमऊ तहसील सभागार में आयोजित हुआ संपूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी और पुलिस...

बांगरमऊ तहसील सभागार में आयोजित हुआ संपूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी रहे मौजूद

बांगरमऊ. उन्नाव

 

तहसील दिवस में 137 शिकायती पत्र लेकर पहुंचे शिकायतकर्ता, 11शिकायतकर्ता की फरियाद का त्वरित निस्तारण के दिए गए आदेश,सैकड़ों की संख्या में उमड़ा जन सैलाब

बांगरमऊ के तहसील सभागार में जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इस मौके पर फरियादियों की भारी भीड़ लगी रही। डीएम ने शिकायती पत्रों को संज्ञान में लेकर तत्काल शिकायतों के निस्तारण के लिए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए।

बता दें कि शनिवार को बांगरमऊ नगर के संडीला मार्ग स्थित तहसील परिसर सभागार में आयोजित हुए संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिला अधिकारी अपूर्वा दुबे पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी के नेतृत्व में फरियादियों की फरियाद सुनने का सिलसिला शुरू किया गया। जनपद स्तरीय के अधिकारियों के यहां पहुंचने से लोगों की अच्छी खासी भीड़ उमड़ पड़ी हाथो में शिकायती पत्र लिए हुए सैकड़ो की संख्या में लोग लाइन में लगकर अपनी शिकायत दर्ज करवाने हेतु लाइन में लगे रहे। इस दौरान दोनो अधिकारियों ने फरियादियों से मिलकर उनकी समस्या सुनी तथा संबंधित विभाग के अफसरों को बुलाकर शिकायती पत्र थमाते हुए तत्काल समस्या का निस्तारण करवाए जाने की हिदायत दी गई।कार्यक्रम के दौरान डी एम अपूर्वा दुबे ने सभी अधिनस्थों को गुणवत्ता पूर्वक कार्य करवाए जाने की हिदायत दी गई। तथा लापरवाह कर्मियो पर कार्यवाही की चेतावनी दी गई। कप्तान दिनेश त्रिपाठी ने अपराध पर नकेल कसे जाने हेतु पुलिस से मुस्तैद रहने की बात कही गई।

इस दौरान बांगरमऊ उपजिलाधिकारी उदित नारायण सेंगर, सीओ पंकज सिंह, कोतवाल ओपी राय, तहसीलदार दिलीप कुमार आदि सहित सभी विभागो के कर्मचारी मौजूद रहे।

इनसेट

संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर बांगरमऊ तहसील में विभिन्न विभागों की कुल 137 शिकायतें सुनीं गयीं। जिसमें से डीएम द्वारा 11 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण कराया गया। इस दौरान उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए, कि जन सामान्य की शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार का विलम्ब न किया जाए। लोगों की शिकायतों को गंभीरता से लिया जाए और उनका गुणवत्तापूर्ण, समयबद्ध व संतुष्टिपरक निस्तारण किया जाए, ताकि शिकायत कर्ता को बार- बार शिकायत न करनी पड़े।शिकायत निस्तारण के पूर्व शिकायत कर्ता से फीडबैक अवश्य ले लिया जाए। शिकायत कर्ता के संतुष्ट होने पर ही शिकायत को निस्तारित माना जायेगा।

इनसेट

डीएम ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस, आईजीआरएस पोर्टल आदि के माध्यम से प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए।निस्तारण में लापरवाही पाए जाने पर सम्बंधित अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। उन्होंने कहा कि जनता की सेवा करना हम सभी का मुख्य कर्तव्य है। इसलिए कोई भी फरियादी तहसील दिवस किसी भी कार्यालय से निराश होकर नहीं जाना चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि शासन द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनपद के हर पात्र व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए। शासन की योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं, जिससे कि आम आदमी भी जनकल्याण कारी योजनाओं से सीधे जुड़कर लाभान्वित हो सके।

रिपोर्ट: अनिल यादव

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES