No menu items!
Saturday, August 13, 2022
Homeउत्तर प्रदेशबरेली दुनका में फिर बंदरों का हमला, बुजुर्ग व्यक्ति गंभीर रूप से...

बरेली दुनका में फिर बंदरों का हमला, बुजुर्ग व्यक्ति गंभीर रूप से घायल   

जनपद बरेली शाही दुनका में आतंकी बंदरों ने फिर 8 दिन बाद जानलेवा हमला कर घर में लेटे (वृद्ध) बुजुर्ग व्यक्ति को घायल कर दिया वृद्ध के सिर से मांस नोच कर उनको लहूलुहान कर दिया लोगों ने बड़ी मुश्किल से वृद्ध को बंदर के चुंगल से छुड़ाया परिजनों ने गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया है बता दें कि इसी गांव दुनका में 8 दिन पहले ही बंदरों ने हमला करके मासूम बच्चे की जान ले ली थी अफसरों से शिकायत के बावजूद बंदर पकड़ने का इंतजाम नहीं किया गया और दोबारा घटना हो गई गांव दुनका निवासी छोटेलाल उम्र 60 वर्ष की पत्नी और दो पुत्रियां आज सुबह खेत बाद में मिर्च तोड़ने चली गई छोटेलाल घर में अकेले थे वह कमरे में चारपाई पर लेटे थे सुबह 7 बजे उनकी छत पर बंदर का झुंड आ गया बंदर का एक बच्चा घर में घुसकर उनके कमरे में पहुंच गया छोटे लाल ने बंदर के बच्चे को डांट कर भगाने की कोशिश की बंदर के बच्चे ने शोर मचा दिया इसके बाद दर्जनों बंदरों के झुंड ने उनके घर पर धावा बोल दिया आक्रोशित बंदरों ने छोटेलाल को नीचे गिरा लिया और उनके सिर का मांस नोच लिया कई जगह जख्मी कर दिया,

 

पड़ोसी सुनील ने बताया कि चीख सुनकर जब वह ग्रामीणों के साथ पहुंचे तो जमीन पर पड़े छोटेलाल को दर्जनों बंदर काट रहे थे वे छटपटा रहे थे हालत देखकर एक बार तो घबरा गए मगर सब ने एकजुट होकर लाठियां फटकारी तो बंदरों ने छोटेलाल को छोड़ा उन्होंने बताया कि यदि ग्रामीण बचाने ना आते तो बंदर छोटेलाल की जान ले लेते ,

4 साल के कार्तिक की बंदरों ने ले ली थी जान _ दुनका के आतंकी बंदर 8 दिन पहले 4 माह के कार्तिक की जान ले चुके हैं 8 दिन पहले शाम को बिजली ना होने पर पिता अरुण उपाध्याय पुत्र कार्तिक को गोद में लेकर दो मंजिला मकान की छत पर टहल रहे थे अचानक बंदरों ने उनको घेर लिया बंदरों ने पिता की गोद से काफी को छीनकर छत के नीचे फेंक दिया था जिसे कार्तिक की मौत हो गई थी।

बरेली से संवाददाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES