No menu items!
Saturday, August 13, 2022
Homeमध्य प्रदेशपति और पिता के बीच विवाद ने ले ली महिला और तीन...

पति और पिता के बीच विवाद ने ले ली महिला और तीन बच्चियों की जान

जिला ब्यूरो/ मनोज सिंह

 

पति और पिता के बीच विवाद ने ले ली महिला और तीन बच्चियों की जान
कुंये में कूंदकर तीन बेटियों के साथ कर ली महिला ने खुदकुशी

टीकमगढ़। आपसी विवाद के चलते जेठ और पिता ने थाना जतारा पहुंचकर पति की रिपोर्ट क्या कर दी। महिला अपना आपा ही खो बैठी। उसने इतना बढ़ा कदम उठा लिया कि उसका परिवार ही नहीं सारा गांव दहल गया। अपनी तीन मासूम बेटियों पर भी उसे दया नहीं आई और अपने साथ ले गई खुदकुशी करने। इस घटना के बाद से गांव मुहारा में मातम पसरा हुआ है। कई घरों के चूल्हे आज चार मौतों के बाद से ठंडे पड़े रहे। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच कर भरोसा दिया है। थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी एवं पुलिस कर्मचारियों ने महिला और तीनों बच्चियों के शव पोस्ट मार्डम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिये, जिनका बाद में गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। महिला की मौत की खबर सुनकर उसके मायके और ससुराल पक्ष के लोग दोनों ही मातम में डूबे रहे। घटना के संबन्ध में बताया गया है कि पैसों को लेकर महिला रामदेवी कुशवाहा उम्र 25 वर्ष के पति काशीराम कुशवाहा और काशीराम के पिता मुन्नी लाल कुशवाहा के बीच कहासुनी हो गई, जिस पर मुन्नी लाल ने अपने पिता के साथ अभद्रता कर दी। इस मामले में मुन्नीलाल अपने बड़े बेटे कल्लू उर्फ किशोरी कुशवाहा के साथ थाना जतारा रिपोर्ट करने जा पहुंचे। उन्होंने काशीराम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। शायद इसी बात से नाराज होकर महिला रामदेवी अपनी तीनों बेटियों को रात्री 12:30 बजे के लगभग घर से लेकर निकल गई। परिजनों को लगा कि वह सो गई है। इसके बाद जब सुबह परिजनों एवं गांववासियों ने उसकी खोजबीन की, तो गांव वालों ने एक बच्ची का शव गांव के ही एक कुंयें में तैरता हुआ देखा। इस घटना की सूचना देने के साथ ही गांववासियों ने कुआं खाली करना शुरू किया। सूचना पाकर थाना प्रभारी त्रिवेदी त्रिवेदी पुलिस बल के साथ मौके पर जा पहुंचे। उन्होंने चारपाई के सहारे सुबह नौ बजे के लगभग महिला रामदेवी एवं उसकी तीनों बच्चियों के शव निकलवाये। जिला अंतर्गत जतारा थाने के मुहारा गांव में एक महिला सहित तीन मासूम बच्चियों की मौत से लोगों के दिल दहल गये। मातम के बीच डूबे गांव में कुएं से एक-एक करके पुलिस ने चार शव निकाले। कुशवाहा परिवार में छाये मातम के दौरान लोगों ने ढाढस बंधाने का भरपूर प्रयास किया, लेकिन इतनी बढ़ी घटना के चलते उनके प्रयास नाकाफी साबित होने लगे। लोगों ने इस घटना पर शोक जाहिर करने के साथ ही पुलिस से मामले की बारीकी से जांच करने पर जोर दिया। थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी ने भी पूरी संवेदना दिखाते हुये गांव वासियों का जांच के बाद उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया। बताया गया है कि महिला ने पारिवारिक विवाद के चलते ये कदम उठाया । बच्चियों की उम्र 5 साल ए 3 साल और 9 माह बताई जा रही है। पुलिस ने मौके चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जतारा थाना क्षेत्र के मुहारा गांव में कुशवाहा परिवार की बहू रामदेवी उम्र 25 साल पत्नी काशीराम कुशवाहा मंगलवार रात तीनों बेटियों के साथ लापता हो गई थी । रात भर परिजन उनकी तलाश में जुटे रहे । आज सुबह करीब 4 बजे पास के कुएं में देखा तो चारों के शव पानी में तैरते मिले।
मृतिका का मायका है चित्रकूट
जतारा थाना पुलिस को प्रथम दृष्टया जांच में पारिवारिक विवाद का मामला सामने आया है। जतारा थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी ने बताया कि मृतका रामदेवी का मायका चित्रकूट का है । उसके माता-पिता के आने के बाद ही पोस्टमार्टम कराया गया। फि लहाल चारों के शवों को जतारा स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उनका पोस्ट मार्डम किया गया। पुलिस ने इस दौरान एफएसएल टीम की भी मदद ली। श्री त्रिवेदी ने जांच के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। पति और पिता के बीच विवाद ने ले ली महिला और तीन बच्चियों की जान
कुंये में कूंदकर तीन बेटियों के साथ कर ली महिला ने खुदकुशी
टीकमगढ़। प्रदीप खरे। आपसी विवाद के चलते जेठ और पिता ने थाना जतारा पहुंचकर पति की रिपोर्ट क्या कर दी। महिला अपना आपा ही खो बैठी। उसने इतना बढ़ा कदम उठा लिया कि उसका परिवार ही नहीं सारा गांव दहल गया। अपनी तीन मासूम बेटियों पर भी उसे दया नहीं आई और अपने साथ ले गई खुदकुशी करने। इस घटना के बाद से गांव मुहारा में मातम पसरा हुआ है। कई घरों के चूल्हे आज चार मौतों के बाद से ठंडे पड़े रहे। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच कर भरोसा दिया है। थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी एवं पुलिस कर्मचारियों ने महिला और तीनों बच्चियों के शव पोस्ट मार्डम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दियेजिनका बाद में गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। महिला की मौत की खबर सुनकर उसके मायके और ससुराल पक्ष के लोग दोनों ही मातम में डूबे रहे। घटना के संबन्ध में बताया गया है कि पैसों को लेकर महिला रामदेवी कुशवाहा उम्र 25 वर्ष के पति काशीराम कुशवाहा और काशीराम के पिता मुन्नी लाल कुशवाहा के बीच कहासुनी हो गई, जिस पर मुन्नी लाल ने अपने पिता के साथ अभद्रता कर दी। इस मामले में मुन्नीलाल अपने बड़े बेटे कल्लू उर्फ किशोरी कुशवाहा के साथ थाना जतारा रिपोर्ट करने जा पहुंचे। उन्होंने काशीराम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। शायद इसी बात से नाराज होकर महिला रामदेवी अपनी तीनों बेटियों को रात्री 12:30 बजे के लगभग घर से लेकर निकल गई। परिजनों को लगा कि वह सो गई है। इसके बाद जब सुबह परिजनों एवं गांववासियों ने उसकी खोजबीन की, तो गांव वालों ने एक बच्ची का शव गांव के ही एक कुंयें में तैरता हुआ देखा। इस घटना की सूचना देने के साथ ही गांववासियों ने कुआं खाली करना शुरू किया। सूचना पाकर थाना प्रभारी त्रिवेदी त्रिवेदी पुलिस बल के साथ मौके पर जा पहुंचे। उन्होंने चारपाई के सहारे सुबह नौ बजे के लगभग महिला रामदेवी एवं उसकी तीनों बच्चियों के शव निकलवाये। जिला अंतर्गत जतारा थाने के मुहारा गांव में एक महिला सहित तीन मासूम बच्चियों की मौत से लोगों के दिल दहल गये। मातम के बीच डूबे गांव में कुएं से एक-एक करके पुलिस ने चार शव निकाले। कुशवाहा परिवार में छाये मातम के दौरान लोगों ने ढाढस बंधाने का भरपूर प्रयास किया, लेकिन इतनी बढ़ी घटना के चलते उनके प्रयास नाकाफी साबित होने लगे। लोगों ने इस घटना पर शोक जाहिर करने के साथ ही पुलिस से मामले की बारीकी से जांच करने पर जोर दिया। थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी ने भी पूरी संवेदना दिखाते हुये गांव वासियों का जांच के बाद उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया। बताया गया है कि महिला ने पारिवारिक विवाद के चलते ये कदम उठाया । बच्चियों की उम्र 5 साल ए 3 साल और 9 माह बताई जा रही है। पुलिस ने मौके चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जतारा थाना क्षेत्र के मुहारा गांव में कुशवाहा परिवार की बहू रामदेवी उम्र 25 साल पत्नी काशीराम कुशवाहा मंगलवार रात तीनों बेटियों के साथ लापता हो गई थी । रात भर परिजन उनकी तलाश में जुटे रहे । आज सुबह करीब 4 बजे पास के कुएं में देखा तो चारों के शव पानी में तैरते मिले।
मृतिका का मायका है चित्रकूट
जतारा थाना पुलिस को प्रथम दृष्टया जांच में पारिवारिक विवाद का मामला सामने आया है। जतारा थाना प्रभारी त्रिवेद्र त्रिवेदी ने बताया कि मृतका रामदेवी का मायका चित्रकूट का है । उसके माता-पिता के आने के बाद ही पोस्टमार्टम कराया गया। फि लहाल चारों के शवों को जतारा स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उनका पोस्ट मार्डम किया गया। पुलिस ने इस दौरान एफएसएल टीम की भी मदद ली। श्री त्रिवेदी ने जांच के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES