No menu items!
Monday, August 15, 2022
Homeउत्तर प्रदेशBareilly तहसील दिवस में प्रधानों ने पंचायत सचिवों पर कमीशन मांगने का...

Bareilly तहसील दिवस में प्रधानों ने पंचायत सचिवों पर कमीशन मांगने का लगाया आरोप

Bareilly। तहसील दिवस में प्रधानों ने पंचायत सचिवों पर 10 से 15 फीसदी कमीशन मांगने का लगाया आरोप कमीशन ना देने पर रोक देते हैं भुगतान ,जमकर हुई नारेवाज़ी

जनपद बरेली मीरगंज _ संपूर्ण समाधान दिवस पर (तहसील दिवस) के दौरान विकास कार्यों में सचिवों पर कमीशन खोरी का आरोप लगाते हुए शनिवार को प्रधान संघ के अध्यक्ष सोनू कुर्मी के नेतृत्व में सभी प्रधान लामबंद हो गये। ब्लॉक परिसर से तहसील कार्यालय तक पंचायत सचिव मुर्दावाद और प्रधान संघ एकता जिन्दावाद के नारे लगाये गये। और उन्होंने जमकर नारेबाजी की उन्होंने सचिवों पर 10 से 15 प्रतिशत कमीशन ना देने पर भुगतान रोकने का आरोप लगाया, मीरगंज संपूर्ण समाधान दिवस में शिकायतें सुन रहे एडीएम वित्त संतोष बहादुर सिंह ने जांच करा कर दोषी सचिवों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया तो प्रधान शांत हुए।

मीरगंज _ प्रधान संघ के अध्यक्ष सोनू कुर्मी के नेतृत्व में दर्जनों प्रधानों ने ग्राम पंचायत सचिवों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे मीरगंज तहसील मैं आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में पहुंचे जहां पर शिकायतें सुन रहे एडीएम वित्त संतोष बहादुर सिंह को शिकायती पत्र सौंपा उन्होंने कहा कि मीरगंज की सभी ग्राम पंचायतों में तैनात सचिव का शोषण कर रहे हैं अपने चहेते ठेकेदारों से काम करा कर उनका भुगतान कर देते हैं लेकिन जो मालवीय मांगते हैं उसका भुगतान नहीं करते बल्कि उसके भुगतान के एवज में 10 से 15 प्रतिशत कमीशन मांगते हैं विरोध करने पर अभद्रता करते हैं प्रधानों ने कहा की शुक्रवार को मसीहाबाद प्रधान महिपाल का इसी बात को लेकर सचिव से विवाद हुआ था दोनों ने मामले की तहरीर मीरगंज थाना पुलिस को दी मीरगंज पुलिस मामले की जांच कर रही है, समाधान दिवस में बैठे बीडीओ ओम प्रकाश प्रजापति चुप्पी साधे बैठे रहे, नारेबाजी कर रहे प्रधानों को एडीएम संतोष बहादुर सिंह ने निष्पक्ष जांच कराकर दोषी सचिवों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया।

प्रधान संघ के अध्यक्ष सोनू कुर्मी ने बताया पंचायत सचिव विकास कार्य में विना कमीशन लिये भुगतान करने को तैयार नहीं है। यहाँ तक कि पंचायत सचिवों के व्यक्तिगत ठेकेदार हैं जिनकी मोटी कमीशन उनसे तय हैं। सभी पंचायत सचिव प्रधानों पर उन्हीं व्यक्तिगत ठेकेदारों से काम कराने पर ज़ोर डालते हैं और उनका कहना न मानने पर उनका पेमेंट रोक देते हैं।गत दिन कमीशन की ही बात को लेकर एक प्रधान व एक सचिव आमने सामने आ गये थे। मामले ने तूल पकड़ा तो दोनों ने एक दूसरे के विरुद्ध मीरगंज थाने में एक दूसरे के खिलाफ जान का खतरा बताते हुये तहरीर भीं दीं थी जिसकी जाँच अभी चल रही हैं। प्रधान संघ के बैनर तले सभी प्रधानों ने तहसील दिवस के दौरान एडीएम वित्त संतोष बहादुर सिंह को ज्ञापन भीं सौपा। ज्ञापन सौपने वालों में प्रधान संघ अध्यक्ष सोनू कुर्मी,गजेंद्र कुमार, हरीश कुमार, महिपाल, फिरोज,उर्मिला देवी, राहुल, प्रेमपाल, आरती देवी,धर्म पाल, राहत हुसैन , प्रेमलता, सत्यप्रभा, जमील अहमद, शमा परवीन, देवकी देवी, विजय सिंह, शिवकुमार सहित बड़ी संख्या में प्रधान व उनके पति मौजूद रहें।

मीरगंज तहसीलदार रश्मि कुमारी ने बताया की एडीएम वित्त संतोष बहादुर सिंह ने मामले की जांच एसडीएम मीरगंज को सौंपी है जांच में जो भी निकल कर आएगा उसी के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बरेली से संवाददाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES