No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeमध्य प्रदेशजिला कोषालय अधिकारी को लोकायुक्त ने दस हजार की रिश्वत लेते रंगे...

जिला कोषालय अधिकारी को लोकायुक्त ने दस हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़

 

मनोज सिंह/जिला ब्यूरो

टीकमगढ़ । भृष्टाचाररोधी संगठन लोकायुक्त सागर की टीम ने एक और अधिकारी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है जानकारी के मुताबिक जिला स्वास्थ्य विभाग के पूर्व सीएमएचओ शिवेंद्र कुमार चौरसिया के द्वारा लोकायुक्त में शिकायत दर्ज कराई गई थी कि ट्रेजरी विभाग के अधिकारियों ने जीपीएफ भुगतान के एवज में रिश्वत की मांग की है शिकायत पर लोकायुक्त ने मामले को संज्ञान में लेकर पहले पुष्टि की फिर रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों अधिकारी को पकड़ने के लिए टीम गठित की । लोकायुक्त डीएसपी राजेश खेड़े ने बताया कि टीकमगढ़ में प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के पद पर पूर्व में तैनात डॉ. शिवेंद्र चौरसिया काफी समय पहले रिटायर हो गए थे रिटायर होने के बाद उनका जीपीएफ, अर्जित अवकाश, मेडिकल सहित अन्य कार्यों को लेकर करीब 43 लाख रुपए के बिल का भुगतान जिला कोषालय कार्यालय से किया जाना था जिसके एवज में जिला कोषालय अधिकारी विभूति अग्रवाल और सहायक कोषालय अधिकारी शिवराम प्रजापति के द्वारा रिश्वत की मांग की जा रही थी इसमें डॉक्टर चौरसिया द्वारा पूर्व में ही पांच हजार रूपये रिश्वत के रूप में बातचीत के दौरान दिए गए थे लेकिन इसके बाद दस हजार रूपये मंगलवार को देना तय हुआ था जैसे ही शिकायतकर्ता ने दस हजार रूपये की रिश्वत दी तत्काल जिला कोषालय अधिकारी विभूति अग्रवाल को रंगे हाथों पकड़ा उनके कब्जे से दस हजार रूपये बरामद किये है इसमें सह आरोपी के रूप में सहायक कोषालय अधिकारी शिवराम प्रजापति भी शामिल है उक्त दोनो के खिलाफ भृष्टाचार निवारणअधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है इस दौरान लोकायुक्त सागर डीएसपी राजेश खेड़े, टीआई मंजू सिंह सहित अन्य विशेष पुलिस स्थापना इकाई के सदस्य शामिल रहे।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES