No menu items!
Saturday, August 13, 2022
Homeउत्तर प्रदेशग्राम पंचायत चुनाव मतगणना में हुई गड़बड़ी की आशंका पर हाईकोर्ट ने...

ग्राम पंचायत चुनाव मतगणना में हुई गड़बड़ी की आशंका पर हाईकोर्ट ने दोबारा मतगणना कराए

बांदा

बाँदा के बबेरू विकासखंड की ग्राम पंचायत हरदौली ग्राम पंचायत चुनाव मतगणना में हुई गड़बड़ी की आशंका पर हाईकोर्ट ने दोबारा मतगणना कराए जाने का दिया निर्देश ।

भारी सुरक्षा बल के बीच संपन्न हुई मतगणना । चालीस मतों से हरायी गई प्रत्याशी अफसरी खातून को पुनः मतगणना में चालीस मतों से विजयी घोषित कर दिया प्रमाण पत्र।
विकासखंड बबेरू के ग्राम पंचायत हरदौली में 12 प्रधान प्रत्याशियों ने अपना अपना भाग्य आजमाया था जिसमें प्रशासन ने सुनियोजित ढंग से शादाब खान को 40 मतों से विजयी घोषित कर दिया था । जबकि अफसरी खातून पत्नी जाहिद खान का कहना था कि मुझे 1624 मत मिले और प्रतिद्वंदी को 1584 मत मिले लेकिन आरओ निरंजन कुमार सिन्हा की मिली भगत कर मुझे हरा दिया गया । उप जिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय पर पुनः मतगणना कराए जाने के लिए वाद दायर किया था । उप जिला मजिस्ट्रेट ने 23 मई 2022 को तहसीलदार के न्यायालय पर पुनः मतगणना कराए जाने के लिए निर्देश दिया । लेकिन यह मामला हाई कोर्ट पहुंचा गया हाईकोर्ट ने 7 जून को पुनः मतगणना तहसीलदार के न्यायालय पर कराए जाने के निर्देश दिए तो विपक्षियों के होश उड़ गये । मंगलवार को उप जिला अधिकारी सुरभि शर्मा ,आरओ निरंजन कुमार सिन्हा ,खंड विकास अधिकारी डाक्टर प्रभात कुमार द्विवेदी, तहसीलदार अजय कुमार कटिहार की देख रेख पर ग्राम पंचायत के वार्ड नंबर 5 व मतदान स्थल संख्या 103 कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय हरदौली की मतगणना सुबह करीब 11 बजे पुलिस क्षेत्राधिकारी सत्य प्रकाश शर्मा ,व कोतवाली प्रभारी अरुण कुमार पाठक के साथ भारी सुरक्षा बल के बीच मतगणना प्रारंभ हुई मतगणना करीब 4 घंटे तक चली अफसरी खातून को पांच मत मिले थे वही पुनः मतगणना में 85 मत मिले प्रशासन की मिली भगत की पोल खुली । जीते प्रत्यासी को 40 मतों से पराजित कर विजयी घोषित किया गया । जैसे ही अफसरी खातून की जीत की सूचना गांव में पहुंची वैसे ही गांव के लोगों का जमावड़ा तहसील परिसर में बढ़ गया सभी के जुबान से यही निकला था कि देर है अंधेर नहीं भारत के न्याय में देरी हो सकती है लेकिन न्याय मिलता ही रहेगा और वह आज साबित भी हो गया यह कहकर लोगों ने प्रत्याशी और प्रत्याशी के पति जाहिद को फूल मालाओं से लाद दिया । मतगणना के बारे में मजिस्ट्रेट सुरभि शर्मा ने बताया कि हाई कोर्ट के निर्णय पर तहसीलदार के व्यायालय में मेरी देखरेख में मतगणना संपन्न हुई है मतगणना के पश्चात विजयी प्रत्याशी को प्रमाण पत्र दिया गया है ।
वही आरओ निरंजन कुमार सिन्हा ने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि यह मेरी गलती नहीं है यह गणना पटल से जो भी अभिलेख मुझे उपलब्ध कराए गए हैं उसी के आधार पर मैंने बिजायी का प्रमाण पत्र जारी किया गया है ।
वही विजय प्रत्याशी अफसरी खातून व उसके पति पूर्व प्रधान जाहिद खान को विजयी घोषित करने के बाद पुलिस ने दोनो को सुरक्षा घेरा में ले लिया । कोतवाली प्रभारी अरुण कुमार पाठक पुलिस की गाड़ी में घर तक छोड़ने गए और सुरक्षा व्यवस्था पर पुलिस रही चौकन्ना

रिपोर्ट सुभाष चंद शर्मा

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES