No menu items!
Saturday, August 13, 2022
Homeउत्तर प्रदेशउन्नाव पीड़ित को दबाव में लेने के लिए सहारा हॉस्पिटल संचालक बना...

उन्नाव पीड़ित को दबाव में लेने के लिए सहारा हॉस्पिटल संचालक बना रहा मनगढ़ंत कहानियां

उन्नाव: सहारा अस्पताल परियर की दो दिन पहले ही सदमपुर थाना सफीपुर की गुड्डी पत्नी रामबरन ने सीएम ब्रजेश पाठक को पत्र लिखा कर न्याय की गुहार लगाई थी। इसके बाद अस्पताल संचालक हासिम रजा ने गुड्डी को सबक सिखाने के लिए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया था। जिसमें लिखा था कि पीड़ित के पारिवारिक लोगो पर असलहा दिखाकर 55हजार रुपए लेने का दावा किया था लेकिन वीडियो में ना तो कहीं पैसे लेने का सबूत है नहीं कोई असलहा नजर आया लेकिन गुड्डी के मुताबिक कार्यवाही से बचने के लिए सहारा संचालक द्वारा जो पैसे आर पी एस हॉस्पिटल में दिए गए उसका वीडियो भी पीड़ित के पास मौजूद है।पीड़ित ने खुले शब्दों में सहारा संचालक के बातो को झूठा बताती है । आपको बता दे की सदमपुर निवासी रामबरन को कई दिनों से उल्टियां और बुखार रहने लगा था जिसका इलाज रामबरन की पत्नी गुड्डी जिला अस्पताल करवाने के लिए जारही थी, लेकिन मोसीन रजा के बहकावे में आकर रामबरन का इलाज सहारा हॉस्पिटल परियर करवाने चली गई। सहारा हॉस्पिटल में ऑपरेशन के बाद भी रामबरन की तबीयत में सुधार ना होने के कारण गुड्डी रामबरन को आर पी एस हॉस्पिटल कानपुर लेकर गई जिसके बाद पता चला कि ऑपरेशन किसी प्रशिक्षित डॉक्टर ने नहीं किया और ना ही पथरी निकल पाई है लेकिन पेशाब नली काट दी। जिसके बाद गुड्डी सहारा अस्पताल परियर आकर अस्पताल संचालक से शिकायत के बाद स्वास्थ्य मंत्री व डिप्टी सीएम को पत्र लिखा था, जिससे बचने के लिए अस्पताल संचालक ने मनगढ़ंत कहानियां बनाना शुरू कर दिया।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES