No menu items!
Monday, September 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशउन्नाव: गंगा को छलनी करने वाले खनन माफियाओं के काले कारनामे ने...

उन्नाव: गंगा को छलनी करने वाले खनन माफियाओं के काले कारनामे ने तीन किशोरों को निगल

उन्नाव: गंगा ने तीन किशोरों को निगला-गांव में मचा हाहाकार तब जागा प्रसाशन डीएम ने गंगा घाट का किया निरीक्षण। बालू खनन माफिया के आतंक के चलतेे युवकों की जान चली गई।

शव गांव में पहुंचते ही हाहाकार मच गया। गांव की हर नम आंख से बस यही निकला अच्छा नही हुआ।

मामला उत्तर प्रदेश के जनपद उन्नाव जिला के सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के परियर गंगाघाट घाट पर गणेश विसर्जन में प्रतिदिन हजारो श्रद्धालु गंगा स्नान कर रहे हैं। प्रसाशन अपने आप को बचाने में जुट गया। परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने से किया इंकार।

माखी थाना व गांव निवासी नीलू पांडे ने गणेश प्रतिमा स्थापित की कई दिन पूजन कर शुक्रवार को गाजे बाजे के साथ गणपति का विसर्जन करने के परियर स्थित गंगा तट पर गये थे। गणेश प्रतिमा विसर्जन के बाद श्रद्धालु गंगा स्नान परने लगे इसी दोरान गांव के लवलेश (17)पुत्र जय सिंह, प्रशांत (18)पुत्र शिवनरेश विशाल गुप्ता (16)पुत्र रामकिशोर, कन्हैया पुत्र सरवन तिवारी, अभिषेक पुत्र रामस्वरूप गहरे पानी में डूब गए। साथियों ने किसी तरह निकाल कर निजी अस्पताल ले गये जहाँ डाक्टर ने लवलेश, प्रशांत को मृत घोषित कर दिया विशाल को गम्भीर हालत में कानपुर हैलट रेफर कर दिया जहाँ कानपुर हैलट के डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। दो को बचा लिया गया। तीन तीन शव गांव पहुंचते ही कोहराम मच गया। ग्रामीणों में बस यही चर्चा है कि एक सप्ताह से गंगा स्नान विसर्जन चल रहा था जिसका प्रसाशन ने कोई व्यवस्था नहीं की। मौतो के बाद डीएम अपूर्वा दुबे गंगा घाट का निरीक्षण करने पहुंची। स्थानी पंडो से घाट की स्थित का जायजा लिया।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES