Sunday, July 3, 2022
Homeमध्य प्रदेशएसडीएम सीपी पटेल ने फिर किया अतिक्रमण ध्वस्त

एसडीएम सीपी पटेल ने फिर किया अतिक्रमण ध्वस्त

जिला ब्यूरो मनोज सिंह
टीकमगढ़

एसडीएम सीपी पटेल ने फिर किया अतिक्रमण ध्वस्त

13 लोगो के अबैध मकानों को गिराकर करोड़ो की जमीन कराई अतिक्रमण मुक्त

बुजुर्ग को चारपाई सहित छाँव में बैठाया फिर गिराया मकान

टीकमगढ़। टीकमगढ़ के बुल्डोजर एसडीएम नाम से पहचान बना चुके एसडीएम सीपी पटेल ने अबैध अतिक्रमकारियो के विरुद्ध कार्यवाही जारी रखते हुए मुख्य सड़क से लगी करोड़ो की बेशकीमती सरकारी जमीन अतिक्रमण मुक्त कराई है। कार्यवाही के दौरान अधिकारियों की तब संवेदनशीलता भी दिखाई दी जब एक अबैध पक्के मकान में चारपाई पर एक बुजुर्ग को लेटा हुआ देखा तो बुजुर्ग को चारपाई समेत पहले पेड़ की छांव में बिठाया, पानी पिलाया और फिर उसके बाद अबैध निर्माण को धरासाई किया। हालांकि जिन लोगो के अबैध निर्माण को धरासाई किया गया उन लोगो के गांव में पहले से ही मकान बने हुए हैं। गांव में बने मकानों के बाबजूद बेशकीमती सरकारी जमीन पर कब्जा कर पक्का अबैध निर्माण किया गया था।
टीकमगढ़ मुख्यालय से 13 किलोमीटर दूर ग्राम समर्रा व मदनपुर में शासन की बेशकीमती जमीन पर कई लोगो ने अबैध निर्माण कर लिया था जिसकी जानकारी लगने पर एसडीएम सीपी पटेल ने अतिक्रमकारियो को बेदखली का नोटिस दिया और फिर मियाद खत्म होते ही आज सुबह से भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर अबैध निर्माण पर बुल्डोजर चलवा कर धरासाई कर दिया। एसडीएम सीपी पटेल ने बताया कि ग्राम मदनपुर में बनी राजमाता सिंधिया वेटी विदाई वाटिका के सामने और इसके आसपास मुख्य सड़क के किनारे 13 लोगो द्वारा पक्का अबैध निर्माण कर लिया गया था। जिसको धरासाई कर दिया गया है।
13 अतिक्रमकारियो में अलिबख्श खा, करीम खा,
दाम खा, रजिया खा, भरत लोधी, भागीरथ लोधी, बब्बू लोधी, नाथूराम साहू, धरम बंशकार, सुरेंद्र बंशकार, अशोक बंशकार, गोकुल, सुखराती खा शामिल हैं, जिनके पक्के अबैध निर्माण को जमीदोज किया गया।
कार्यवाही के दौरान टीकमगढ़ एसडीएम सीपी पटेल, तहसीलदार आर पी तिवारी, नायव तहसीलदार पीयूष दीक्षित, डीएसपी प्रिया शिंधी, कोतवाली थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह पवार, प्रदीप कुमार जैन पीडब्ल्यूडी, आलोक खरे एसडीओ, बड़ागांब थाना प्रभारी संतोष चौरासिया सहित काफी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES