Sunday, June 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशअंतरराष्ट्रीय योग दिवस विशेष

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस विशेष

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस विशेष 21 जून को अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को विश्व योग दिवस मनाने की घोषणा की थी। हर साल दुनियाभर में योगा सेशन व योगाभ्यास कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

योग न सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बल्कि मानसिक सेहत के लिए भी अच्छा होता है। योग के महत्व को बताने के लिए और लोगों में इसके प्रति जागरूकता फैलाने के लिए हर साल अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस यानी इंटरनेशनल योग दिवस मनाया जाता है। हर साल की तरह इस बार भी 21 जून को अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। हर साल योग दिवस को मनाने के लिए एक थीम रखी जाती है।

साल 2022 में मनाए जाने वाले योग दिवस यानी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के 8वें संस्करण की थीम “योग फॉर ह्यूमैनिटी” है। “मानवता के लिए योग”, इस थीम पर ही दुनियाभर में योग दिवस मनाया जाएगा। गौरतलब है कि भारत को योग गुरु कहा जाता है।

योग दिवस का महत्व और इतिहास 

11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को विश्व योग दिवस मनाने की घोषणा की थी। जिसके बाद साल 2015 में 21 जून को दुनियाभर में योग दिवस मनाया गया और ये सिलसिला अभी तक जारी है। हांलाकि, भारत में योग का इतिहास बहुत पुराना है।

21 जून को ही क्यों मनाते हैं योग दिवस?

दरअसल, 365 दिनों में से 21 जून सबसे लंबा दिन होता है। इसकी वजह यह है कि इन दिन उत्तरी गोलार्ध पर सूरत की सबसे ज्यादा रोशनी पड़ती है। इस दिन सूरज जल्दी निकलता है और देरी से ढलता है। साथ ही इस दिन सूरज से मिलने वाली ऊर्जा सबसे ज्यादा प्रभावी होती है, जो प्रकृति की सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देती है।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES