Wednesday, June 29, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUP बोर्ड में फिर छात्राओं ने मारी बाजी, पास हुईं 90.15% लड़कियां

UP बोर्ड में फिर छात्राओं ने मारी बाजी, पास हुईं 90.15% लड़कियां

UP बोर्ड में फिर छात्राओं ने मारी बाजी, पास हुईं 90.15% लड़कियां , फेल हुए छात्र स्कूटनी व्यवस्था के जरिए कर सकते हैं आवेदन

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की 12वीं की परीक्षा में भी छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत छात्रों के मुकाबले अधिक रहा।शीर्ष 10 में भी छात्रों के मुकाबले अधिक छात्राओं ने जगह बनाई। यहां यूपी बोर्ड के सभागार में 12वीं का परीक्षा परिणाम जारी करते हुए शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) डॉ. सरिता तिवारी ने बताया कि माध्यमिक परीक्षा में कुल उत्तीर्ण 19,09,249 परीक्षार्थियों में 9,80,543 छात्र और 9,28,706 छात्राएं हैं।
उन्होंने बताया कि उत्तीर्ण होने वाले छात्रों का प्रतिशत 81.21 जबकि उत्तीर्ण होने वाली छात्राओं का प्रतिशत 90.15 रहा। इस प्रकार से छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत भी छात्रों की तुलना में 8.94% अधिक है। यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में शीर्ष 10 में कुल 28 परीक्षार्थियों ने जगह बनाई है, जिसमें से 15 स्थानों पर छात्राएं काबिज हैं, जबकि 13 स्थानों पर छात्र रहे।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया गया। माध्यमिक शिक्षा निदेशक डॉक्टर सरिता तिवारी ने बताया कि लड़कियों ने फिर बाज़ी मारी। 10वीं की परीक्षा में 85.25% छात्र, 91.69% छात्राएं पास हुईं तो कुल 88.18% स्टूडेंट्स पास हुए।

रिजल्ट जारी होने के साथ ही स्टूडेंट्स का एक ऐसा समूह है जो 12वीं की परीक्षा पास नहीं कर पाया है.।12वीं में पास ना होने वाले स्टूडेंट्स का प्रतिशत लगभग 15 है। जबकि यूपी बोर्ड 12वीं के ओवर ऑल रिजल्ट की बात करें तो 85.33% छात्र पास हुए हैं। ऐसे में फेल होने वाले या कम नंबर पाने वाले ऐसे स्टूडेंट जिनको लग रहा है उनको और नंबर मिलना चाहिए था तो वो स्क्रूटिनी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको बोर्ड द्वारा निर्धारित शुल्क जमा करना होगा। स्क्रूटिनी प्रोसेस कब शुरू होगा और इसके लिए कितना शुल्क जमा करना होगा, इसकी जानकारी यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर दे दी जाएगी।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES