Wednesday, June 29, 2022
Homeउत्तर प्रदेशमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की कोविड-19 की समीक्षा बैठक ,दिए आवश्यक निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की कोविड-19 की समीक्षा बैठक ,दिए आवश्यक निर्देश

24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 413 नए मामले आए सामने

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की कोविड-19 की समीक्षा बैठक ,दिए आवश्यक निर्देश

 

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोविड-19 से बचाव व उपचार की व्यवस्थाओं को प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के नए मामलों की संख्या में तेजी से हो रही बढ़ोत्तरी के दृष्टिगत सतर्कता और सावधानी बरती जाए।मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर टीम-9 की बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थेे। उन्होंने कहा कि 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज दिये जाने के कार्य में तेजी लायी जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि पात्र लोग टीके की दूसरी खुराक समय से लें।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 413 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 209 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1849 है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 04 हजार से अधिक कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 11 करोड़ 59 लाख 27 हजार 837 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। बैठक में यह जानकारी भी दी गयी कि राज्य में गत दिवस तक 33 करोड़ 45 लाख 50 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगायी जा चुकी हैं।18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 13 करोड़ 99 लाख 99 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। इस प्रकार 94.96 प्रतिशत लोग कोविड टीके की दोनों डोज ले चुके हैं।

विगत दिवस तक 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 98.79 प्रतिशत किशोर कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज तथा 82.92 प्रतिशत किशोर टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर चुके हैं।12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 92.80 प्रतिशत बच्चों ने टीके की पहली खुराक तथा 53.44 प्रतिशत बच्चों ने टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर ली है। 33 लाख 57 हजार से अधिक प्रिकॉशन डोज प्रदान की जा चुकी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ‘एक जनपद एक मेडिकल कॉलेज’ के लक्ष्य की पूर्ति के लिए गम्भीरता से प्रयास कर रही है. असेवित जनपदों में मेडिकल कॉलेज की स्थापना हेतु पी0पी0पी0 नीति घोषित की गयी है।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES