Saturday, July 2, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUnnao:दलित किशोरी की पटक-पटक कर हत्या, शव रेलवे ट्रैक पर फेंका

Unnao:दलित किशोरी की पटक-पटक कर हत्या, शव रेलवे ट्रैक पर फेंका

पुरानी रंजिश के चलते लडकी की हत्या होने की आशंका

बांगरमऊ उन्नाव

नहीं रुक रहा अपराधों का सिलसिला

-परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, मां का आरोप में दुष्कर्म के बाद की गई हत्या 

रविवार की शाम से गायब थी, सुबह मिला शव।

उन्नाव। बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में 12 वर्षीय बच्ची घर की छत से बीते रविवार की शाम अचानक कही लापता हो गयी। जिसके बाद सूचना पर पहुचीं पुलिस खोजबीन के बाद भी उसका कही सुराग नही चल सका। अगले दिन ही सोमवार को किशोरी का शव गांव के निकट 300 मिटर की दूरी पर बालामऊ- कानपुर रेलवे ट्रैक के किनारे खून लथपथ मिला। किशोरी की हत्या किन परिस्थितियों में हुई यह जांच के बाद ही पता चलेगा। किन्तु इस हत्या के पीछे पिता द्वारा गाँव की ही एक महिला को भगा ले जाने की रंजिस ही हत्या का कारण बताया जा रहा है।

जानकारी अनुसार बीते रविवार की देर रात करीब 9 बजे 12 वर्षीय दलित बच्ची घर की छत से अचानक कही लापता हो गयी। जिसके बाद अनहोनी घटना की शंका होने पर परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद गांव पहुँचकर कोतवाली पुलिस द्वारा किशोरी की खोजबीन की गई। किन्तु तब तक काफी रात हो चुकी थी। जिससे सफलता न मिलने पर पुलिस वापस लौट गई। सोमवार की सुबह गांव के निकट से गुजरी रेलवे पटरी के निकट किशोरी के खून से लथपथ शव देखा गया। यह खबर पूरे गांव में जंगल की आग के तरह फैल गयी। प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार रेलवे लाइन के पास एक पत्थर पर खून के धब्बे लगे हुए थे जिससे कहा जा रहा है कि इसी पत्थर के खम्भे से पटक कर बच्ची की जान ले ली गयी। घटना की सूचना पर बांगरमऊ सीओ विक्रमाजीत सिंह, कोतवाल ब्रजेन्द्र नाथ शुक्ला के नेतृत्व में पुलिस द्वारा मौके पर पहुँचकर साक्ष्य एकत्र कर शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है। किंतु किशोरी हत्याकांड की घटना तमाम तरह के सवाल खड़े करती दिख रही है। वही ग्रामीणों के अनुसार मृतिका किशोरी के पिता कई माह पूर्व गांव की ही एक महिला को कही भगा ले गया था। जिसके बाद महिला के परिजनों द्वारा पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया। जिससे दो परिवारों के बीच रंजिश उत्पन्न हो गयी। लोगो में चर्चा है कि महिला के परिजन अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे थे। जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि किशोरी के पिता द्वारा भगा ले जाने से गुस्साए महिला के परिजन इस घटना को अंजाम देने में शामिल हो सकते है।

पुलिस कार्यशैली पर उठे सवाल-

पुलिस कार्यशैली पर भी लोग चर्चा करते सुने जा रहे है लोगो का कहना है कि महीनों पूर्व जब महिला गांव से भागी थी तो सूचना के बाद भी पुलिस ने कोई ठोस कार्यवाही नही की गई जिससे दोनो के परिवार सहमत हो पाते।

पुलिस की जांच में लापरवाही के सवाल-

घटना के दिन बीते रविवार को भी किशोरी के लापता होने की सूचना पर पहुची पुलिस द्वारा किसी प्रकार अत्याधुनिक साधनों के जरिये खोजबीन नही की गई यदि रविवार रात ही पुलिस सक्रिय होकर खोजबीन करती तो सायद बच्ची की जान बच जाती।

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका-

बारह वर्षीय किशोरी की पटक-पटक कर हत्या करने के मामले में मां ने पहले दुष्कर्म किया गया होगा उसके बाद उसकी हत्या कर शव रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहने की बात कह रही है।

मृतिका बच्ची के पिता डंफर का चालक है। बच्ची 4 बहन भाइयों में दूसरे नम्बर की थी। मां भी खतों में मेहनत मजदूरी करके परिवार का पालान पोषण करती है।

घटना की सूचना पर उन्नाव एएसपी शशि शेखर सिंह भी मौके पर पहुँचकर परिजनों व ग्रामीणों से पूछताछ कर जांच पड़ताल की। साथ में बांगरमऊ सीओ विक्रमाजीत, थाना प्रभारी ब्रजेंद्र नाथ शुक्ला भी मौजूद रहे।

घटना की तह तक जाने के लिए फॉरेंसिक जांच टीम मौके पर पहुंची तथा डॉग स्क्वायड भी घटना स्थल पर पहुँचकर साक्ष्य इकठ्ठा किये।

घटना के संबंध में मृतिका बच्ची की मां द्वारा गांव की ही लोगों को नामजद करते हुए तहरीर दी है जिस पर पुलिस ने किडनैपिंग, हत्या तथा एससी-एसटी की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है घटना के बाद से आरोपी फरार हैं।

उन्नाव एडिशनल एसपी शशि शेखर सिंह ने बताया है कि सोमवार की सुबह 12 वर्षीय बच्ची का शव रेलवे लाइन के किनारे पड़ा मिला था। बांगरमऊ पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। कई धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जो भी आरोपी होंगे जल्द ही गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी।

 

रिपोर्टर अनिल यादव tv भारत संवाददाता बांगरमऊ उन्नाव

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES