Saturday, July 2, 2022
Homeमध्य प्रदेशहत्या के मामले में आरोपीगण को आजीवन कारावास

हत्या के मामले में आरोपीगण को आजीवन कारावास

जिला ब्यूरो /मनोज सिंह

हत्या के मामले में आरोपीगण को आजीवन कारावास

न्यापयालय जतारा द्वारा पारित अपने निर्णय में आरोपीगणों को धारा 302/149 भादवि के अंतर्गत अजीवन कारावास एवं अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।

टीकमगढ़।ग्राम पलेरा निवासी दिनेश तिवारी का परिवार के आरोपी बाबूलाल तिवारी व ऋषिकुमार तिवारी से जमीन पर से काफी दिनों से विवाद चला आ रहा था। करीब 15 दिन पूर्व आरोपी बाबूलाल तिवारी व ऋषि कुमार तिवारी ने दिनेश तिवारी के खेत की जमीन में लकड़ी की थुनिया गाड़ दी थी। घटना दिनांक 26.07.2020 को सुबह के समय दिनेश तिवारी, अपनी पत्नी आशा तिवारी, पुत्री भावना तिवारी व सहोद्रा तिवारी के साथ मौजा पलेरा स्थित मुन्नीवर्मा के खेत पर गए थे। करीब 9:00 बजे दिनेश तिवारी ने अभियुक्त बाबूलाल तिवारी व ऋषिकुमार तिवारी से कहा कि उसके खेत में थुनिया क्यों गाड़ दी है, तब अभियुक्त बाबूलाल व ऋषिकुमार तिवारी दिनेश तिवारी से झगड़ा करते हुए मां-बहन की अश्लील गालियां देने लगे। उसी समय मौके अभियुक्त विमला तिवारी, खुशबू तिवारी एवं विधि विरूद्ध बालक आ गया। दिनेश तिवारी ने अभियुक्तगण को गालियां देने मना किया, तो इसी बात पर से अभियुक्त ऋषिकुमार तिवारी ने लोहे के सब्बल से दिनेश तिवारी के सिर में कई वार किए, जिससे दिनेश तिवारी का सिर फट गया और जमीन पर गिर गया। बचाने के लिए आशा तिवारी दौड़ी, तो अभियुक्त ऋषि कुमार तिवारी ने आशा तिवारी के सिर में भी लोहे के सब्बल से मारा तथा अभियुक्त बाबूलाल तिवारी, विमला तिवारी ने भी आशा तिवारी के सिर में डण्डों से मारपीट की, जिससे आशा तिवारी जमीन पर गिर गई, तब विधि विरूद्ध बालक ने दिनेश तिवारी व आशा तिवारी की डण्डों से मारपीट की। अभियुक्त खुशबू तिवारी ने कहा कि मारो, कोई जिंदा न बच पाए तथा अभियुक्त खुशबू तिवारी ने भावना तिवारी के बाल पकड़कर झकझोर दिए और दो-तीन तमाचे मारे। उसी समय अभियुक्त ऋषि कुमार तिवारी ने भावना तिवारी को जान से मारने की नीयत से दाए हाथ में लोहे के सब्बल मारे, तब भावना तिवारी एक तरफ हो गई। अभियुक्तगण की मारपीट की वजह से दिनेश तिवारी व आशा तिवारी की मौके पर ही मृत्यु हो गई। तत्पश्चात् फरियादिया भावना तिवारी के द्वारा घटना के संबंध में थाना पलेरा में उपस्थित होकर मौखिक रिपोर्ट पंजीबद्ध करवाई, जिसके आधार पर अभियुक्तगण के विरूद्ध अपराध क्रमांक 305/2020 अंतर्गत् धारा 147, 148, 149, 294, 302, 323 भा.द.वि. के तहत प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया गया, विवेचना पूर्ण कर प्रकरण न्या यालय के समक्ष प्रस्तुपत किया गया उक्त प्रकरण में न्यायालय द्वारा आज दिनांक को चारों आरोपीगण को दोषी पाते हुए दोहरे आजीवन कारावास एवं अर्थदण्ड से दण्डित किया गया। उक्त चिन्हित प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी श्री सुनील कुमार नामदेव सहा० जिला अभियोजन अधिकारी टीकमगढ़ द्वारा की गई।

 

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES