Saturday, July 2, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUnnao: बाबूओ की लापरवाही और हीला हवाली का सेवानिवृत्त शिक्षक उठा रहे...

Unnao: बाबूओ की लापरवाही और हीला हवाली का सेवानिवृत्त शिक्षक उठा रहे हैं खामियाजा

उन्नाव:उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल(पूर्व माध्यमिक)शिक्षक संघ, उन्नाव के प्रयासों से जनपद उन्नाव में पूरे प्रदेश में सबसे पहले सेवानिवृत्त शिक्षकों का फंड भुगतान उनके खातों में पहुंच सका इसके साथ ही साथ संयुक्त निदेशक पेंशन, लखनऊ मंडल, लखनऊ से पेंशन पत्रावलियाँ स्वीकृत होकर लगभग 30 शिक्षकों के पीपीओ(Pension payment order)नंबर जारी किए गए जो कि लेखा कार्यालय,उन्नाव में प्राप्त हो चुके हैं जल्द ही इन सेवानिवृत्त शिक्षकों को पेंशन ट्रेजरी से मिलने लगेगी।शेष 29 सेवानिवृत्त शिक्षकों के PPO (पेंशन भुगतान आदेश)भी जल्द ही प्राप्त होने की उम्मीद थी किंतु सेवानिवृत्ति के लगभग 1 माह पश्चात् भी अद्यतन 29 सेवानिवृत्त शिक्षकों के पेंशन भुगतान आदेश प्राप्त नहीं हो सके हैं साथ ही जिन 30 शिक्षकों के पीपीओ नंबर जारी हो गए थे वह भी डाक के माध्यम से सेवानिवृत्त शिक्षकों के घर तक नहीं पहुंच सके हैं इसमें सीधे तौर पर संयुक्त निदेशक कार्यालय के बाबुओं की लापरवाही बताई जा रही है इसके साथ ही जिन 29 सेवानिवृत्त शिक्षकों की पेंशन भुगतान आदेश अद्यतन संयुक्त निदेशक पेंशन लखनऊ मंडल से जारी नहीं हुए हैं उसमें भी संयुक्त निदेशक कार्यालय के बाबुओं की लापरवाहई मानी जा रही है जहां एक ओर शासन स्तर पर 100 दिन की कार्ययोजना में शासन तेजी से कार्रवाई कर रहा है और सोशल मीडिया द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी ने ट्वीट जरिए जानकारी दी थी कि कर्मचारियों की लंबित फाइलें 3 दिन से अधिक लंबित ना रखी जाए वही दूसरी ओर विभागीय कर्मचारियों के कानों पर अभी तक जू भी नहीं रेंग रही इसके साथ ही एक आदेश में उत्तर प्रदेश शासन द्वारा सेवानिवृत्त कर्मचारियों का भुगतान शीघ्र करने की आदेश भी जारी किए गए थे किंतु जनपद उन्नाव में बेसिक शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त हुए शिक्षकों के पीपीओ नंबर अभी तक उन तक नहीं पहुंचे हैं ऐसे में उनकी पेंशन में विलंब होना लाजमी है

इसके साथ ही जनपद उन्नाव से तकरीबन 560 शिक्षकों के मृत्यु अथवा सेवानिवृत्ति आनुतोषिक नियमावली वरण हेतु विकल्प पत्र जनपद उन्नाव से प्रेषित किए गए थे उनमें से केवल 94 ग्रेच्युटी विकल्प पत्र ही स्वीकृत होकर आए शेष स्वीकृत होकर नहीं लौट पाए हैं यह विकल्प पत्र शिक्षकों की मृत्यु अथवा सेवानिवृत्ति आनुतोषिक नियमावली वर्ण हेतु नियमावली 15 के अंतर्गत सेवाकाल में मृत्यु हो जाने पर शासन द्वारा स्वीकृत आनुतोषिक को परिवार के सदस्यों को प्रदान करने का अधिकार देती है तथा सेवानिवृत्ति के पश्चात मृत्यु होने पर अनुमूल्य आनुतोषिक की जो भी धनराशि शेष रह जाएगी वह परिवार के सदस्यों को दी जाएगी ऐसा प्रावधान है किंतु बाबू की लापरवाही से यह विकल्प पत्र भी अभी तक स्वीकृत होकर जनपद उन्नाव नहीं लौटे हैं उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाई स्कूल (पूर्व माध्यमिक) शिक्षक संघ के प्रांतीय कोषाध्यक्ष संजय कुमार कनौजिया, प्रदेश संयुक्त मंत्री अक्षय कटियार, मंडल अध्यक्ष गजेंद्र सिंह सेंगर, मंडल उपाध्यक्ष बृजेश वर्मा, जनपद उन्नाव के जिला अध्यक्ष सौरभ सिंह, महामंत्री कृष्ण शंकर मिश्रा, कोषाध्यक्ष अवनीश पाल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष वेद नारायण मिश्र, महिला उपाध्यक्ष अनामिका भारती, उपाध्यक्ष राजकुमार यादव, उपाध्यक्ष दिलीप अवस्थी, संदीप कटियार मंत्री, इमरान अली खान, राकेश बघेल, धर्मेंद्र सिंह, गणेश शंकर गुप्ता, पुनीत पटेल समेत कई पदाधिकारियों के प्रयासों के चलते जनपद उन्नाव से सेवानिवृत्त हुए शिक्षकों की पेंशन पत्रावली को स्वीकृत करा कर पी पी ओ नंबर जारी शीघ्र पेंशन चालू करवाने के प्रयास लगातार जारी है संगठन द्वारा यह जा रहे शिक्षक हितैषी प्रयासों पर बाबुओं की हीला हवाली भारी पड़ती नजर आ रही है इस पर संगठन ने बड़ा विरोध दर्ज करवाया है।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES