Tuesday, June 28, 2022
Homeमध्य प्रदेशपरिजनो की शिकायत पर एडीजी के निर्देश में खोदी गई कब्र

परिजनो की शिकायत पर एडीजी के निर्देश में खोदी गई कब्र

मनोज सिंह ब्यूरो चीफ
टीकमगढ़

 

परिजनो की शिकायत पर एडीजी के निर्देश में खोदी गई कब्र।

टीकमगढ़। 11 दिन पूर्व कब्र में दफन की गई महिला का बुधवार को कब्र से शव बाहर निकाला गया। परिजनों द्वारा हत्या का आरोप लगाए जाने के बाद पुलिस शव को बाहर निकाला गया मृतका के पिता बिलाल द्वारा बताया गया है कि उसकी पुत्री की शादी तकरीबन 3 साल पहले भोपाल में हुई थी शादी के दौरान उनके द्वारा पूरा  दहेज दिया गया था लेकिन लड़के वाले आए दिन और दहेज की मांग करते थे शादी के बाद एक बच्चा हो जाने के बाद भी यह उनकी पुत्री को शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना देते रहे हैं जिसकी शिकायत उनकी पत्नी द्वारा कई बार अपने घर वालों से की गई थी और अभी वर्तमान में दूसरी  डिलीवरी के दौरान उनकी पुत्री की मौत हो गई जिसके बाद वह सबको अपने साथ लेकर टीकमगढ़ पहुंचे और मुस्लिम रीति-रिवाजों के साथ सबको कब्र में दफना दिया गया था लेकिन संदेह के बाद वरिष्ठ अधिकारियों से मामले की शिकायत की गई यह शिकायत भोपाल एडीजे महिला प्रकोष्ठ पहुंची जहां पर मामले को संज्ञान में लेते हुए आला अधिकारियों द्वारा टीकमगढ़ पुलिस को निर्देशित करते हुए शव को कब्र से डॉक्टरों की उपस्थिति में बाहर निकलवाया गया । इसके बाद उसका पोस्टमार्टम किया जाएगा। बानपुर दरवाजा स्थित कब्रिस्तान में पुलिस के आलाधिकारियों के साथ ही तमाम प्रशासनिक अमला और डॉक्टर्स की टीम पहुंची। कोतवाली थाना प्रभारी वीरेन्द्र पवार ने बताया कि कोतवाली क्षेत्र के बदान मोहल्ला निवासी बिलाल मोहम्मद की पुत्री सीमा का भोपाल में निकाह हुआ था। 16 अप्रेल को उसका प्रसव होने पर भोपाल में ही उसकी मौत हो गई थी। साथ ही बच्चा भी खत्म हो गया था। इसके बाद परिजन उसका शव लेकर टीकमगढ़ आ गए थे। यहां पर 17 अप्रैल को परिवार की महिलाओं द्वारा कफन-दफन के पूर्व जब सीमा को नहलाया जा रहा था तो उसके शरीर पर कई चोट के निशान दिखाई दिए। इस पर परिजनों को उसकी हत्या का शक हुआ। मित्रक सीमा का कफन-दफन तो कर दिया, लेकिन उसके साथ हुई मारपीट की कसक मन में रही। इसके बाद पिता बिलाल ने इसकी शिकायत 19 अप्रैल को टीकमगढ़ पुलिस अधीक्षक से की। पुलिस अधीक्षक ने 19 अप्रैल को भोपाल डिप्टी कमिश्नर को पत्र जारी करा मृतक महिला के परिजन भोपाल में अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए दर-दर भटक रहे थे बीते 26 अप्रैल को एडीजी महिला शाखा मैं फरियादी परिजन ने शिकायत दर्ज कराई जिस पर एडीजी महिला शाखा के निर्देशन में आज टीकमगढ़ मैं वरिष्ठ अधिकारियों मौजूदगी में पर पुलिस ने शव को कब्र से बाहर निकालकर उसका पीएम कराने का निर्णय लिया। थाना प्रभारी पवार ने बताया कि एसडीएम सीपी पटेल, सहित तमाम अधिकारियों के साथ ही एफएसएल और पुलिस की पूरी टीम मौके पर पहुंच कर शव को निकालकर उसका पीएम कराकर हत्या के कारणों का पता किया जाएगा। इसके बाद शव को फिर से दफन किया जाएगा।
हत्या से जुड़े इस मामले की जानकारी होने पर समाज के तमाम लोगों के साथ ही अन्य लोग भी कब्रिस्तान पहुंच गए। संभवता यह पहला मामला था, जब हत्या की जांच करने के लिए किसी शव को कब्र से बाहर निकाला गया हो। इस दौरान डीएसपी प्रिया सिंधी तहसीलदार आरपी तिवारी डॉक्टर दीपक ओझा डॉक्टर दीपक ओझा, महिला डॉक्टर रेखा बढ़गईया कोतवाली थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह पवार थाना प्रभारी नसीर फारुकी नायब तहसीलदार सहित कोतवाली पुलिस का दल बल मौजूद रहा।

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES