Saturday, July 2, 2022
Homeउत्तर प्रदेशबांगरमऊ नवीन मंडी में अधिकारियों व आढ़तियों की मिलीभगत से प्रति ट्रॉली...

बांगरमऊ नवीन मंडी में अधिकारियों व आढ़तियों की मिलीभगत से प्रति ट्रॉली हो रही कमीशन की अवैध वसुली

बांगरमऊ उन्नाव :स्थानीय मंडी परिसर के अधिकारियों व आढ़तियों की मिलीभगत से मनमानी व दबंगई से प्रति ट्राली 1000 रुपये भारी भरकम कमीशन वसूली की जा रही है ।

नगर के संडीला मार्ग पर स्थित नवीन मंडी स्थल में स्थानीय मंडी प्रशासन की मिलीभगत के चलते आढ़तियों की मनमानी व दबंगई के साथ-साथ मनमाने ढंग से प्रति ट्राली एक हजार रुपया लिए जा रहे भारी कमीशन के चलते किसानों का भारी शोषण हो रहा है, जिससे किसानों में भारी रोष व्याप्त है।

मालूम हो कि एक तरफ जहां किसानों की आमदनी दुगनी करने पर सरकार बहुत जोर दे रही है, वहीं दूसरी ओर स्थानीय मंडी प्रशासन व आढ़तियों की मिलीभगत के चलते किसानों का भारी शोषण किया जा रहा है। हर दिन क्षेत्रीय किसान अपनी उपज लेकर यहां मंडी आते हैं। किसानों की उपज को खरीदने के लिए दूरदराज से व्यापारी यहां सैकड़ों पिकअप, मेटाडोर, ट्रकों पर उपज लोड करके बाहरी शहरों में बिक्री के लिए ले जाते हैं। मौजूदा समय में तरबूज व खरबूजा भारी मात्रा में इस मंडी में आ रहा है। स्थानीय मंडी प्रशासन की मिलीभगत के चलते यहां के आढ़ती मनमाने ढंग से प्रति ट्राली 1000 रुपया कमीशन ले रहे हैं। जबकि मंडी समिति गेट पास के नाम पर प्रति ट्राली 160 रुपया शुल्क वसूल करता है। मिलीभगत के चलते यहां के आढ़तियों का मंडी परिसर में काफी दबदबा है जिसके चलते वह मनमाने ढंग से अवैध वसूली कर रहे हैं। स्थानीय मंडी प्रशासन सब कुछ जानते हुए भी मूकदर्शक बना हुआ है। जब प्रति ट्राली 1000 रुपया कमीशन लिया जा रहा है तो व्यापारी भी किसानों से कमीशन काटकर कम दामों पर उनकी उपज की खरीदारी करता है। जिससे किसानों को भारी नुकसान हो रहा है। जब इस संबंध में मंडी सचिव अवधेश कुमार दुबे से फोन पर वार्ता करनी चाही तो उनका फोन नहीं उठा। उसके बाद उपजिलाधिकारी अंकित शुक्ला को मंडी में फैली अराजकता, आढ़तियों की दबंगई व मनमाने ढंग से वसूले जा रहे कमीशन के बारे में फोन पर वार्ता की तो उन्होंने कहा कि इस मामले को हम देखेंगे। स्थानीय मंडी प्रशासन व आढ़तियों की मिलीभगत के चलते किसानों का भारी शोषण हो रहा है, जिससे किसानों में भारी रोष व्याप्त है। क्षेत्रीय किसानों ने जिलाधिकारी से मांग की है कि यहां के आढ़तियों की मनमानी पर अंकुश लगाया जाए जिससे किसानों का शोषण रुक सके।

अनिल यादव TV भारत/TPN news नेटवर्क बांगरमऊ संवाददाता

आपकी राय

Sorry, there are no polls available at the moment.
RELATED ARTICLES